वो नहीं रुकी
मैंने आंसू भी दांव पर लगा के देखे…!!

Read more...

किसी गरीब से ये बड़े शहर के लोग
पैसे देकर बहुत कुछ छीन लेते है….!!

Read more...

किसी गरीब से ये बड़े शहर के लोग
पैसे देकर बहुत कुछ छीन लेते है….!!

Read more...

कुछ ज़ख़्म भी ख़ामोश कर दिये जाते हैं

‘लोग क्या कहेंगे’ ये कहकर
अपने ही उनका गला घोट जाते हैं

Read more...

सब कुछ झूठा हो सकता है लेकिन अकेले में बहाया हुआ आंसू नहीं।

Read more...

एक बार अच्छी खासी लड़ाई के बाद तुमने कहा था कि
" एक समय बीत जाने के बाद तुम्हें समझ आएगा कि मुझसे अधिक प्रेम तुम्हें कोई ना कर सका और तब तुम मुझे ढूंढोगी, मेरे उस प्रेम को याद करोगी, मुझ तक पहुंचना चाहोगी पर मैं शायद कहीं ना मिलु, वो समय तुम शोक से भर जाओगी तुम्हें पछतावा होगा..

Read more...

जीवन की असली पढ़ाई,
पढ़ाई खत्म होने के बाद सुरू होती हैं…

Read more...

इतना अजीब शख़्स हूँ कि मेरे साथ रहकर
बिगड़े हुए सुधर गए सुधरे हुए बिगड़ गए

Read more...

खामोशी से मतलब नहीं, मतलब तो बातों का है
दिन तो गुजर जाता है, मसला तो रातों का हैं!!

Read more...

बारिश__

आसमाँ का दर्द
सींचती है धरती
पनपता है प्रेम

Read more...