छीन लेते हैं रंगत चेहरे की,

बेटियों को जो बोझ समझते हैं,

पहले छीन लेते हैं खुशियां उनकी,

फिर हंसने को कहते हैं..!!