इश्क़ में दो की संख्या आखरी होती है,
तीन की जलन आप नहीं समझ सकते.

Read more...

तुझे पाने की कोशिश में कुछ इतना रो चुका हूँ,
मैं कि तू मिल भी अगर जाये तो अब मिलने का ग़म होगा

- वसीम बरेलवी

Read more...

धर्म से बड़ा देश होता है। मातृभूमि होती है।
सिख धर्म में बाल कटवाना वर्जित है,
लेकिन अपने देश के लिये मैं बाल तो क्या गर्दन भी कटवा सकता हूँ।

~ शहीद भगत सिंह

Read more...

बईमानी भी तेरे इश्क ने सिखाई है,
तू पहली चीज है जो मेने मां से छुपाई है

Read more...

नफरत का बाज़ार ना बन, फूल खिला तलवार ना बन,
रिश्ता रिश्ता लिख मंज़िल, रस्ता बन दीवार ना बन

- राहत इंदौरी

Read more...

माटी कहे कुम्हार से, तू क्या रौंदे मोहे,
एक दिन ऐसा आएगा, मैं रौंदूंगी तोहे

- कबीर

Read more...

परेशानी यह नहीं की दिन बुरे चल रहें,
मसला ये है कि दिन भी जवानी के हैं ..!!

Read more...

हुए बदनाम मगर फिर भी न सुधर पाए हम ,
फिर वही शायरी फिर वही इश्क फिर वही तुम ..!!

Read more...

एक रोज़ कोई आएगा सारी फुरसत लेकर,
एक रोज़ हम कहेंगे जरूरत नहीं रही अब

Read more...

छोडने की लाख बुराई होने के बाद भी रुकने की एक वजह ही प्रेम होती होगी शायद

Read more...

दर्द छुपाते छुपाते,
दर्द में जीने की आदत हो गई !

” मैं शायर तो नहीं “

कुछ यहां से, कुछ वहां से…

सबका धन्यवाद !

चेहरे पर चेहरा लगाना पड़ता हैं,
मैं ठीक हूं ये कहकर मुस्कुराना पड़ता हैं !