कुछ लोगों को उम्र नहीं..
जिम्मेदारियां समझदार बना देती हैं..!!

Read more...

मुमकिन नहीं मेरा पहले जैसा हो पाना

खुद को बहुत पीछे छोड़ आई हूँ मैं

Read more...

मत पूछ किस बेरहमी से कत्ल हुआ था मेरा,
मोहब्बत के ज़र्फ़ में उतारकर पिघलाया गया था मैं..!!

Read more...

एक शख़्स सुकून जैसा,
जो कभी मिला ही नहीं।

Read more...

भुला दिए जाने से ज़्यादा,
आश्चर्य देता है अचानक याद किया जाना…

Read more...

हमें देखो हमारे पास बैठो हम से कुछ सीखो

हमीं ने प्यार माँगा था हमीं ने दाग़ पाए हैं..

Read more...

शिकवे और शिकायतों में क्या रखा है!
वक़्त ही कुछ ऐसा है कि….
अपनों ने ही अपनों से दूरी बनाए रखा है।

Read more...

उस रात मैं इसलिए भी बहका……
.
.
उनकी तरफ़ से भी कुछ इशारे थे…..!!

Read more...

कभी ये मत सोचिए कि आप अकेले हो,
बल्कि ये सोचिए कि आप अकेले ही काफी है।

Read more...

ख़्वाहिश है कि ख़ुद को भी कभी दूर से देखूँ !
मंज़र का नज़ारा करूँ मंज़र से निकल कर !!

Read more...