बीवी भी हक़ जताती है,माँ भी हक़ जताती है,
शादी के बाद आदमी कश्मीर हो जाता है॥

Read more...

तू वो किताब है जिसमें कहानिया बोहत है,
मै वो काग़ज़ हूँ जो कोरा बोहत है।

Read more...

अगर किरदार ऊंचा करना है तो
अपना हुनर दिखाओ अपनी औकात नहीं..!!

Read more...

और वो जो मुझे छोड़कर गए हैं ना वो लौटेंगे एक दिन मगर मैं उन्हें मिलूंगा नहीं.

Read more...

ख़ुद को ख़ुद से आज़ाद किया,
जा, तुझको हमने माफ़ किया !

Read more...

लाखों की कमाई भांड़ में जाए ,
मुझे पापा के हाथों दस का नोट लेना है!

Read more...

अब मैं किसी से उलझता नहीं,
बस हार मान लेता हूं…

Read more...

घर वालों को ज़रूर बताइए उलझने अपनी,
मर जाने से अच्छा है उनके लिए जिया जाए….

Read more...

प्रेम की पहचान अगर शादी होती ,
तो रुकमणी के स्थान पर आज राधा होती ..!!

Read more...

नशे में आने दे ऐ वक्त ,
होश में रहकर तेरे सब जवाब नहीं दे सकता ..!!

Read more...