पैसे से सब कुछ खरीदा जा सकता है ,
मगर प्यार और संस्कार नहीं ...