सूखे मौसम में बड़ा चटक था तेरा फरेबी रंग 
अब बारिश क्या हुई, बदरंग हो गए।