फ़िक्र में जिसकी ज़माना छोड़ दो तुम,
वो तन्हा छोड़ने में ज़रा भी देर नहीं करता..!